असली लोग -असली अनुभव – कम उम्र कामकाजी युवतियां और भयंकर मोटापा

असली लोग -असली अनुभव – कम उम्र कामकाजी युवतियां और भयंकर मोटापा 

 

खारघर, नवी मुंबई  निवासी एक अत्यधिक मोटापे से ग्रस्त एक युवती के बारे में आज बात करेंगे।

हमारी दिन भर की OPD में आजकल यह समस्या बहुत सामने आ रही है।

कम उम्र में ही लड़कियाँ अपनी पढ़ाई पूरी कर किसी दूसरे और बड़े  शहर में आ कर नौकरी करने लग जाती हैं।

रहने का ठिकाना अमूमन हॉस्टल होता है।

खाना पीना ज़्यादा करके बाहर।

वो भी तला भुना ,बर्गर ,पिज़्ज़ा ,वड़ा पाव जैसी चीज़ें।

काम का समय लम्बा ,दूरियाँ ऑफिस तक की ज़्यादा -नतीजा -अपनी सेहत पर देने को वक़्त ही नहीं।

कसरत -व्यायाम तो भूल ही जाओ।

वज़न तो बढ़ता ही जाता है।

साथ में आती हैं माहवारी से सम्बंधित समस्याएँ।

अभी कुछ ही दिन पहले की बात है , एक युवती का वज़न निकला -137 किलो।

उम्र लगभग 28 साल।

डॉक्टर्स भी हैरान और मरीज़ परेशान , करें तो क्या करें।